Contents

Hindi Sahitya Ke Puraskar | हिंदी साहित्‍य के पुरस्‍कार


Hindi Sahitya Ke Puraskar | हिंदी साहित्‍य के पुरस्‍कार : हिंदी साहित्य की पुरस्कृत रचनाएं एवं रचनाकार निम्न प्रकार से है :



1. ज्ञानपीठ पुरस्कार | Gyanpith Puraskar :

  • भारतीय साहित्य के लिए दिया जाने वाला सर्वोच्च पुरस्कार है जो भारतीय ज्ञानपीठ न्यास द्वारा दिया जाता है। इसमें 11 लाख रुपए की राशि दी जाती है। ज्ञानपीठ सम्मान भारत का सर्वोच्च सम्मान है।
  • ज्ञानपीठ सम्मान भारतीय संविधान की आठवीं सूची में शामिल 22 भाषाओं के भारतीय लेखकों को प्रदान किया जाता है।

ज्ञानपीठ पुरस्कार विजेता :

वर्षलेखक
1968 सुमित्रानंदन पंत (चिदंबरा)
1972 रामधारी सिंह दिनकर (उर्वशी)
1978 सच्चिदानंद हीरानंद वात्स्यायन,
अज्ञेय (कितनी नावों में कितनी बार)
1882 महादेवी वर्मा (यामा)
1992 नरेश मेहता
1999 निर्मल वर्मा
2005 कुंवर नारायण
2009 श्रीलाल शुक्ल
2013 केदारनाथ सिंह
2017 कृष्णा सोबती।

2. साहित्य अकादमी पुरस्कार | Sahitya Akadmi Puraskar :

  • साहित्य अकादमी पुरस्कार 1954 में स्थापित किया गया। यह पुरस्कार भारत की मान्यता प्राप्त भाषाओं में से प्रत्येक में प्रकाशित सर्वोत्कृष्ट साहित्य कृति को पुरस्कार प्रदान करती है।
  • पहली बार यह पुरस्कार 1955 में दिए गए। तब पुरस्कार की राशि 5000 थी I वर्तमान में यह राशि 1 लाख कर दी गई है।

साहित्य अकादमी पुरस्कार विजेता :

वर्षलेखकरचना
1955 माखनलाल चतुर्वेदीहिमतरंगिणी
1956 वासुदेव शरण अग्रवाल पद्मावत संजीवनी व्याख्या
1957 आचार्य नरेंद्र देवबौद्ध धर्म दर्शन
1958 राहुल सांकृत्यायन मध्य एशिया का इतिहास
1959 रामधारी सिंह दिनकर संस्कृति के चार अध्याय
1960 सुमित्रानंदन पंत कला और बूढ़ा चांद
1961 भगवती चरण वर्मा भूले बिसरे चित्र
1963 अमृतराय कलम का सिपाही
1964 अज्ञेयआंगन के पार द्वार
1965 डॉ. नगेंद्ररस सिद्धांत
1966 जैनेंद्र कुमारमुक्तिबोध
1967 अमृतलाल नागर अमृत और विष
1967 हरिवंश राय बच्‍चन दो चट्टानें
1969 श्रीलाल शुक्ल राग दरबारी
1970 रामविलास शर्मा निराला की साहित्य साधना
1971 नामवर सिंहकविता के नए प्रतिमान
1972 भवानी प्रसाद मिश्र बुनी हुई रस्सी
1973 हजारी प्रसाद द्विवेदी आलोक पर्व
1974 शिवमंगल सिंह सुमनमिट्टी की बारात
1975 भीष्म साहनी तमस
1976 यशपाल मेरी तेरी उसकी बात
1977 शमशेर बहादुर सिंह चुका भी हूं मैं
1978 भारत भूषण अग्रवाल उतना व सूरज है
1979 धूमिलकल सुनना मुझे
1980 कृष्णा सोबती जिंदगीनामा जिंदाबाद
1981 त्रिलोचन ताप के तारण हुए देव
1982 हरिशंकर परसाई विकलांग श्रद्धा का दौर
1986 सर्वेश्वर दयाल सक्सेना खूटियों पर टंगे लोग
1984 रघुवीर सहाय लोग भूल गए हैं
1985 निर्मल वर्मा कव्वे और काला पानी
1986 केदारनाथ अग्रवाल अपूर्व
1987 श्रीकांत वर्मा मगध
1988 नरेश मेहता अरण्या
1989 केदारनाथ सिंह अकाल में सारस
1990 शिवप्रसाद सिंह नीला चांद
1991 गिरिजाकुमार माथुरमैं वक़्त के हूं सामने
1992 गिरिराज किशोर ढाई घर
1993 विष्णु प्रभाकरअर्धनारीश्वर
1994 भगवती प्रसाद वाजपेई कहा नहीं वही
1995 कुंवर नारायण कोई दूसरा नहीं
1996 सुरेंद्र वर्मा मुझे चांद चाहिए
1997 लीलाधर जगूड़ी अनुभव के आकाश में चांद
1998 अरुण कमल नए इलाके में
1999 विनोद कुमार शुक्ल दीवार में एक खिड़की रहती थी
2000 मंगलेश डबरालहम जो देखते हैं
2001 अलका सरावगी कलिकथा वाया बाईपास
2002 राजेश जोशी दो पंक्तियों के बीच
2003 कमलेश्वर कितने पाकिस्तान
2004 वीरेन डंगवालदुष्चक्र में सृष्टा
2005 मनोहर श्याम जोशी क्याप
2006 ज्ञानेंद्र पति संशयात्मा
2007 अमरकांत इन्ही हथियारों से
2008 गोविंद मिश्र कोहरे में कैद रंग
2009 कैलाश बाजपेई हवा में हस्ताक्षर
2010 उदय प्रकाश मोहनदास
2011 काशीनाथ सिंहरेहन पर रग्घू
2012 चंद्रकांत देवताले पत्थर फेंक रहा हूं
2013 मृदुला गर्ग बिल्कुल बंद
2014 रमेश चंद्र शाहा विनायक
2015 राम दरस मित्र आपकी हंसी
2016 नासिरा शर्मा पारिजात
2017 रमेश कुंतल मेघ
2018 चित्रा मुद्गल पोस्ट बॉक्स नंबर 203 नालासोपारा
2019 नंदकिशोर आचार्य छीलते हुए अपने को


3. व्यास सम्मान | Vyas Samman :

  • यह पुरस्कार के. के. बिड़ला फाउंडेशन ने प्रारंभ किया। इसमें 3 लाख की नगद राशि दी जाती है । पिछले 10 वर्षों में प्रकाशित हिंदी की कोई भी साहित्यिक कृति इस पुरस्कार की पात्र हो सकती है ।

व्यास सम्मान प्राप्त विजेता :

वर्ष लेखक रचना
1991 रामविलास शर्मा भारत की प्राचीन भाषा परिवार और हिंदी आलोचना
1992 शिवप्रसाद सिंह नीला चांद
1993 गिरिजाकुमार माथुर मैं वक़्त के हूं सामने
1994 धर्मवीर भारती अंधायुग
1995 कुंवर नारायण कोई दूसरा नहीं
1996 रामस्वरूप चतुर्वेदी हिंदी साहित्य और संवेदना का विकास
1997 केदारनाथ सिंह उत्तर कबीर
1998 गोविंद मांगने वाला घर
1999 श्रीलाल शुक्ल विश्रामपुर का संत
2000 गिरिराज किशोर पहला गिरमिटिया
2001 रमेश चंद्र शाह आलोचना का पथ
2002 कैलाश वाजपेई पृथ्वी का कृष्ण पथ
2003 चित्र मुद्गल आंवा
2004 मृदुला गर्ग कंठ गुलाब
2005 चंद्रकांता कथासरित्सागर
2006 परमानंद श्रीवास्तव कविता का अर्थात
2007 कृष्णा सोबती समय सरगम
2008 मन्नू भंडारी एक कहानी यह भी
2009 अमरकांत इन हथियारों से
2010 विश्वनाथ तिवारी फिर भी कुछ रह जाएंगे
2011 राम दरस मिश्र आम के पत्ते
2012 नरेंद्र कोहली न भूतो न भविष्यति
2013 विश्वनाथ त्रिपाठी व्योमकेश दरवेश
2014 कमल किशोर गोयंका प्रेमचंद की कहानियों का कथा क्रमानुसार अध्ययन
2015 सुनीता जैन
2016 रत्न मोहन झा
2017 ममता कालिया दुक्खम सुक्खम
2018 लीलाधर जगूड़ी जितने लोग उतने प्रेम
2019 नासिरा शर्मा कागज की नाव

4. भारत भारती पुरस्कार | Bharat Bharati Puraskar :

  • इसमें 5 लाख 2 हजार की राशि दी जाती है। यह उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान का सबसे बड़ा साहित्यिक पुरस्कार है।

भारत भारती पुरस्कार विजेता :

वर्षलेखक
1982महादेवी वर्मा
1990 धर्मवीर भारती
1998 डॉक्टर जगदीश गुप्त
2001 जानकी वल्लभ शास्त्री
2006 परमानंद श्रीवास्तव
2007 रामदरश मिश्र
2008 केदारनाथ सिंह
2009 महीप सिंह
2010 कैलाश वाजपेई
2011गोविंद मिश्र
2012 गोपालदास नीरज
2013 दूधनाथ सिंह
2015 विश्वनाथ त्रिपाठी


5. मूर्ति देवी पुरस्कार | Murti Devi Puraskar :

  • यह पुरस्कार भारतीय ज्ञानपीठ द्वारा दिया जाने वाला पुरस्कार है। इस पुरस्कार में 4 लाख की राशि, प्रतीक चिन्ह , प्रशस्ति पत्र, वाग्देवी की प्रतिमा दी जाती है।

मूर्ति देवी पुरस्कार विजेता :

वर्ष लेखक
1984 वीरेंद्र कुमार सकलेचा
1988 विष्णु प्रभाकर
1989 विद्यानिवास मिश्र
1990 मुनि श्री नागराज
1992 कुबेरनाथ राय
1993 श्यामाचरण दुबे
1995 निर्मल वर्मा
2000 गोविंद चंद्र पांडे
2001 राममूर्ति त्रिपाठी
2002 यश देवस्थले
2003 कल्याण मल लोढ़ा
2005 राममूर्ति शर्मा
2006कृष्ण बिहारी मिश्र
2011 गुलाब कोठारी
2014 विश्वनाथ त्रिपाठी

ये भी अच्छे से जाने :


एक गुजारिश :

दोस्तों ! आशा करते है कि आपको Hindi Sahitya Ke Puraskar | हिंदी साहित्‍य के पुरस्‍कार के बारे में हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी होगी I यदि आपके मन में कोई भी सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करके अवश्य बतायें I हम आपकी सहायता करने की पूरी कोशिश करेंगे I

नोट्स अच्छे लगे हो तो अपने दोस्तों को सोशल मीडिया पर शेयर करना न भूले I नोट्स पढ़ने और हमारी वेबसाइट पर बने रहने के लिए आपका धन्यवाद..!


6 thoughts on “Hindi Sahitya Ke Puraskar | हिंदी साहित्‍य के पुरस्‍कार”

  1. आपके साइट में उपयोगी जानकारियाँ हैँ। धन्यवाद।

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!